blogid : 15457 postid : 684014

इंसानियत खो चुकी है उत्तर प्रदेश सरकार?

Posted On: 9 Jan, 2014 Others,न्यूज़ बर्थ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend


एक तरफ जहां दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल व्यवस्था को चाक-चौबंद बनाने के लिए नित नए-नए घोषणाएं और कार्यवाही कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के पड़ोस उत्तर प्रदेश में सारे नियम-कानून तथा मानवीय मूल्यों को ताक पर रखकर अखिलेश यादव और उनके बड़े मंत्री मौजमस्ती और विदेशी दौरे करने में व्यस्त हैं.


कड़ाके की ठंड में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा करोड़ो रुपए खर्च करके सैफई महोत्सव मनाए जाने को लेकर विपक्ष की तीखी आलोचनाओं के बीच मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का पैतृक गांव बुधवार को शाम फिल्मी सितारों की चकाचौंध से सराबोर रहा, वहीं पांच घंटे की दूरी पर स्थित मुजफ्फरनगर में दंगा पीड़ित ठंड और बीमारियों से मर रहे हैं. यही नहीं अखिलेश सरकार के कई मंत्री अपनी जिम्मेदारियों को भूलकर विदेशी दौरे पर हैं. हालांकि राज्य सरकार इस दौरे को स्टडी ट्रिप बता रही है.


वास्तविकता से बेखबर अखिलेश सरकार पर अब सवाल उठाए जा रहे हैं कि लगातार हो रहे दंगों, सपा विधायकों की गुंडागर्दी के बीच मुलायम और अखिलेश को मौजमस्ती से हटकर थोड़ा भी वक्त नहीं है कि वह दंगा पीड़ितों से जाकर मिलें और प्रशासन की सुध लेने की जहमत उठा सकें.


आज का मुद्दा

इंसानियत खो चुकी है उत्तर प्रदेश सरकार?


Read more:

नरेंद्र मोदी के बढ़ते कदम को रोक पाएंगी प्रियंका गांधी?

बाबा रामदेव द्वारा काले धन पर संघर्ष एक छलावा है ?

मोदी का पीएम बनना विनाशकारी या फिर यूपीए का नौ साल का कार्यकाल ?



Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

4 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

anant kumar srivastava के द्वारा
January 9, 2014

ऊत्तर प्रदेश सरकार तो बाबरी मस्जिद विध्वंस के बाद ही सत्ता हथिया कर ही इन्सानियत खो दी।उसके बाद कई बार सत्ता का स्वाद भी चख चुकी है।अबतो उनके वंश तो भोग विलस में लीन है।

Shubham Agarwal के द्वारा
January 11, 2014

इसमें कोई संदेह नहीं है कि यू पी सरकार ने इंसानियत कि जगह हैवानियत का चोला ओढ़ रखा है…..

ashokkumardubey के द्वारा
January 16, 2014

यु पी की समाजवादी पार्टी की सरकार इंसानियत खो दे या हैवानियत कि हद पार कर ले अब तो यु पी कि जनता को ५साल तक झेलना है क्यूंकि वहाँ कि जनता ने ही गुंडों कि पार्टी को बहुमत दिया है अब उससे इंसानियत कि उम्मीद करना उनकी मूर्खता नहीं तो क्या कहेंगे? भारतवर्ष का लोकतंतंत्र एक विचित्र लोकतंत्र है यहाँ कि जनता भी विचित्र है और नेता भी .


topic of the week



latest from jagran